अधर्मी शांत हो जा:संबित पात्रा

महाराष्ट्र सरकार  और बीजेपी के बीच चल रही तनातनी के बीच पालघर में हुई साधुओं की हत्या के मामले की सीबीआई  जांच की मांग को लेकर बुधवार को बीजेपी  विधायक राम कदम  ने मुंबई स्थित अपने घर से पालघर की ओर जन आक्रोश यात्रा निकाल रहे थे। हालांकि यात्रा निकालने से पहले ही मुंबई पुलिस ने राम कदम को हिरासत में ले लिया। हिरासत में लेने के कुछ घंटे बाद उन्हें छोड़ा गया।
बीजेपी विधायक को हिरासत में देने के मुद्दे पर हिंदी न्यूज चैनल रिपब्लिक भारत पर लाइव डिबेट रखी गई। डिबेट शो पूछता है भारत की एंकरिंग कर रहे थे चैनल के एडिटर इन चीफ अर्नब गोस्वामी। शो में तमाम पैनलिस्ट्स के साथ ही बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा और शिवसेना नेता विक्रम सिंह यादव भी मौजूद थे। डिबेट में एक वक्त ऐसा आया जब संबित पात्रा विक्रम सिंह पर भड़क गए और उन्हें कहने लगे कि ऐसा श्राप मिलेगा कि तुम्हारा राजनीतिक करियर यहीं खत्म हो जाएगा।दरअसल हुआ ये कि संबित पात्रा बीजेपी विधायक राम कदम का शुक्रिया अदा करते हुए कह रहे थे कि आपका धन्यवाद कि आपने साधुओं का मुद्दा उठाया। इस मामले की सीबीआई जांच जरूर होनी चाहिए। संबित की इस बात पर शिवसेना नेता विक्रम सिंह यादव बीच में टोकते हुए बोलने लगे कि तो केंद्र सरकार ने सीबीआई जांच क्यों नहीं करवाई।
संबित पात्रा ने उनकी बातों को इग्नोर करते हुए जूना अखाड़े के साधुओं के बारे में कुछ कहना शुरू किया। तब विक्रम यादव फिर से टोकने लगे। इस बार संबित पात्रा भड़क गए। बीचे डिबेट में वह चिल्लाते हुए कहने लगे कि अधर्मी शांत हो जा। शांत हो जा नीली शर्ट वाले अघ्रमी नहीं तो जूना अखाड़े के साधुओं की तरफ से ऐसा श्राप मिलेगा कि तुम्हारा राजनीतिक करियर पूरी तरह से समाप्त हो जाएगा।बीजेपी प्रवक्ता औऱ शिवसेना नेता के बीच तीख बहस हुई। शो के एंकर अर्नब गोस्वामी ने भी राम कदम को हिरासत में लिये जाने का विरोध करते हुए महाराष्ट्र सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि उद्धव सरकार आजकल राह चलते किसी को भी गिरफ्तार कर लेती है।