साइबर ठगों का नया पैंतरा

साइबर् ठगों द्वारा सामान्य लोगों को ठगने के बाद उनके निशाने पर बड़े प्रतिष्ठान भी आ गए हैं।आगरा और मथुरा के कई चिकित्सकों को  20-20 लाख रुपये ठगने की कोशिश की गई। ठग ने खुद को भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) का अधिकारी बताते हुए फोन कर लालच दिया कि वह  अस्पतालों को बीएसएनएल के चिकित्सा पैनल में शामिल करा देगा। 

पैनल में शामिल होने वाले अस्पताल को दो-दो करोड़ मिलेंगे लेकिन इसके लिए 20-20 लाख रुपये रिश्वत देनी होगी, जो बीएसएनएल के बड़े अफसरों को पहुंचाई जाएगी। जिन चिकित्सकों के पास ठगों का फोन आया था उनके द्वारा जब बीएसएनएल के अफसरों को फोन किया तो इस ठगी का भंडाफोड़ हुआ। बीएसएनएल के अधिकारियों ने मथुरा और आगरा में पुलिस से शिकायत की है।

जिन लोगों के पास फोन आए थे उनके द्वारा मथुरा में थाना कोतवाली में तहरीर दे दी गई है। इसमें अग्रवाल हेल्पलाइन हॉस्पिटल के निदेशक  डॉ. पवन अग्रवाल के साथ की गई ठगी की कोशिश का भी उल्लेख है। आगरा में थाना सदर में तहरीर दी गई है। अन्य चिकित्सकों के पास आए फोन के बारे में भी बता दिया गया है।ठग ने चिकित्सकों से कहा कि पैसा मिठाई के डिब्बे में लेकर आना। इसे वह ले लेगा। इसके बाद ऊपर (आला अफसरों के पास) पहुंचा देगा। आला अफसर अस्पताल का मुआयना करने के लिए आएंगे।
एसएसपी ने इस मामले की जांच साइबर सेल को सौंप दी है। बीएसएनएल अधिकारियों ने ठग का मोबाइल नंबर दिया है। इसकी कॉल डिटेल और लोकेशन निकलवाई जा रही है।