कामचलाऊ रवैया ठीक नहीं: मंडलायुक्त

आगरा की पेयजल और सीवर समस्या पर मंडलायुक्त अनिल कुमार ने नाराजगी जाहिर करते हुए जल निगम के अफसरों से कहा कि लाइन लीक हो गई तो मरम्मत करा दी, फिर लीकेज हो गया, यह काम चलाऊ रवैया है जो ठीक नहीं है, इन समस्याओं का स्थायी समाधान किया जाए। अफसर खुद मॉनिटरिंग करें। अगली बैठक में इसकी समीक्षा होगी कि इन पर कितना काम हुआ।
मंगलवार को की गई वर्चुअल समीक्षा में मंडलायुक्त ने कहा कि शहर में सबसे ज्यादा शिकायतें पानी की लाइनों के लीकेज और सीवर के सड़कों पर बहने की आ रही है। लोग इनसे परेशान हैं। इनका निस्तारण प्राथमिकता पर होना चाहिए। इसमें लापरवाही हुई तो अफसरों पर कार्रवाई होगी।जीवनी मंडी जल संस्थान में गंगाजल प्रोजेक्ट के तहत जल शोधन संयंत्र के जीर्णोद्धार कार्य में गंगाजल परियोजना व जल निगम अधिकारियों को तेजी लाने के लिए कहा। उन्होंने निर्देश दिए कि अमृत योजना के तहत हो रहे सीवर, पेयजल और पार्कों के सुंदरीकरण में गुणवत्ता उत्तम होनी चाहिए। शायद ही कोई दिन होगा जब किसी न किसी जगह सीवर या पानी की समस्या न हुई हो।